Shiv Chalisa (शिव चालीसा)

॥ दोहा ॥जय गणेश गिरिजा सुवन,मंगल मूल सुजान ।कहत अयोध्यादास तुम,देहु अभय वरदान ॥ ॥ चौपाई ॥जय गिरिजा पति दीन दयाला ।सदा करत सन्तन प्रतिपाला ॥ भाल चन्द्रमा सोहत नीके…

शिव तांडव स्तोत्रम् मंत्र

Shiv Tandav Stotram | शिव तांडव स्तोत्रम् मंत्र जटाटवीगलज्जलप्रवाहपावितस्थलेगलेऽवलम्ब्य लम्बितां भुजङ्गतुङ्गमालिकाम् ।डमड्डमड्डमड्डमन्निनादवड्डमर्वयंचकार चण्डताण्डवं तनोतु नः शिवः शिवम् ॥१॥ जटाकटाहसम्भ्रमभ्रमन्निलिम्पनिर्झरीविलोलवीचिवल्लरीविराजमानमूर्धनि ।धगद्धगद्धगज्ज्वलल्ललाटपट्टपावकेकिशोरचन्द्रशेखरे रतिः प्रतिक्षणं मम ॥२॥ धराधरेन्द्रनंदिनीविलासबन्धुबन्धुरस्फुरद्दिगन्तसन्ततिप्रमोदमानमानसे ।कृपाकटाक्षधोरणीनिरुद्धदुर्धरापदिक्वचिद्दिगम्बरे(क्वचिच्चिदम्बरे) मनो विनोदमेतु वस्तुनि ॥३॥…

श्री कृष्ण भजन – यशोदा का नंदलाला

जूजू जूजू जू....यशोदा का नंदलाला,ब्रिज का उजाला हैमेरे लाल से तो सारा,जग झिलमिलायेजूजू जूजू जू....यशोदा का नंदलाला,ब्रिज का उजाला हैमेरे लाल से तो सारा,जग झिलमिलायेरात ठंडी ठंडी हवा गा के…

हरि नाम के हीरे मोती मैं बिखरावाँ गली-गली

राम नाम के हीरे मोती,मैं बिखराऊँ गली गली ।कृष्ण नाम के हीरे मोती,मैं बिखराऊँ गली गली ।ले लो रे कोई राम का प्यारा,शोर मचाऊँ गली गली ।ले लो रे कोई…

ऋग्वेद

ऋग्वेद सनातन धर्म अथवा हिन्दू धर्म का स्रोत है । इसमें 1028 सूक्त हैं, जिनमें देवताओं की स्तुति की गयी है। इस ग्रंथ में देवताओं का यज्ञ में आह्वान करने…

वेदों के प्रकार

वेदों के प्रकार – वेद चार प्रकार के हैं- ऋग्वेद, सामवेद, यजुर्वेद और अथर्ववेद। प्राचीन भारतीय इतिहास के सर्वोत्तम स्रोतों में से एक वैदिक साहित्य है। वेदों ने ही भारतीय…

jaya jaya devi charachara sare lyrics

जय जय देवी चरा चर सारेकुचजुग शोभित मुक्ता हारे वीणा रंजित पुस्तक हस्तेभगवती भारती देवी नमस्तुतेॐ सरस्वती महाभागेविद्ये कमल लोचनेविस्वरुपे विशालक्ष्मीविद्यम देहि नमोहस्तुते जय जय देवी चरा चर शारेकुचजुग शोभित…

He Swar Ki Devi Maa Lyrics

हे स्वर की देवी माँ वाणी में मधुरता दो,में गीत सुनाती हूँ संगीत की शिक्षा दो || सरगम का ज्ञान नही,ना लय का ठिकाना है,तुम्हे आज सभा में माँ,हमे दरश…

Vakratunda mahakaya lyrics

वक्रतुण्ड महाकायसूर्यकोटि समप्रभनिर्विघ्नं कुरु मे देवसर्वकार्येषु सर्वदासर्वकार्येषु सर्वदा (वक्रतुण्ड महाकायसूर्यकोटि समप्रभनिर्विघ्नं कुरु मे देवसर्वकार्येषु सर्वदासर्वकार्येषु सर्वदा) लम्बोदर नमोस्तुभ्यमसततम् मोदक प्रिय (लम्बोदर नमोस्तुभ्यमसततम् मोदक प्रियनिर्विघ्नं कुरु मे देवसर्वकार्येषु सर्वदासर्वकार्येषु सर्वदा) वक्रतुण्ड…

Hanuman chalisa

hanuman Chalisa ॥ श्री हनुमान चालीसा Lyrics ॥॥ दोहा॥श्रीगुरु चरन सरोज रजनिज मनु मुकुरु सुधारि ।बरनउँ रघुबर बिमल जसुजो दायकु फल चारि ॥ बुद्धिहीन तनु जानिकेसुमिरौं पवन-कुमार ।बल बुधि बिद्या…